678 views

सन्धि समास ओर छंद से सम्बंधित 50 प्रश्न

Recent Posts

सन्धि समास ओर छंद से सम्बंधित 50 प्रश्न
Rate this post

सन्धि समास ओर छंद से सम्बंधित प्रश्न
1. स्वर सन्धि दो स्वरों के मेलो का विकार.
2. सन्धि के होते है तीन प्रकार .
3. अ अथवा आ,  ए या ऐ  से ऐ हो जाय तो उतपन्न सन्धि  वृद्धि सन्धि कहलाये  है.
4. व्यंजन का व्यंजन या स्वर से मेल – व्यंजन सन्धि
5. धनु:+टंकार में आई संधि विसर्ग संधि.
6.समास का पहला पद प्रधान वो कहलाये अव्ययीभाव समास.
7.प्रत्येक का संधि विच्छेद – प्रति+एक ही होता है.
8.सत है जो मन, मे कोन से समास का उदाहरण है कर्मधराय समास.
9.प्रति+अपर्ण सम्बन्धित  हैं- यण स्वर संधि.
10.पीताम्बर का समास विग्रह  पीला है जो अम्बर जिसका से है.
11.हस्तलिखित में है तत्पुरुष समास.
12.यथाशक्ति है शक्ति के अनुसार.
13. भरपेट में समास आया है अव्ययीभाव.
14. नि:+कपट में कौन सी संधि हैं विसर्ग संधि.
15.गणो की संख्या होती है आठ.
16.गण में वर्ण होते है तीन .
17.छप्पय है रोला ओर उल्लाल का संयोग.
18.तीनों वर्ण लघु होते है नगण.
19.वर्णो का समूह कहलता है गण.
20. हरिगीतिका छंद है – मात्रिक छंद है.
21.कवित्त छंद होता है  वर्णिक मुक्तक छंद है .
22.वर्णिक छंद में होती है वर्णो की संख्या निश्चित ही रहती है.
23.मनहरण कवित्त छंद भी कहते है.
24.मनहरण कवित्त को कहते है धनाक्षरी .
25.दोहा एक है मात्रिक छंद है.
26. दण्डक में होती है  32 मात्राएं से अधिक और 36 से अधिक वर्ण .
27. छंद की प्रत्येक पंक्ति कहलाती है –   चरण.
28.चारों चरणों में समान मात्राओं वाले छंद को कहलाता है  मात्रिक सम छंद.
29  छंद का   विषम पद होता है पहला व तीसर.
30.छंद में दूसरा और चौथा चरण कहलाता है –  सम.
31. वर्णिक छंद को वर्ण व्रत छंद भी कहते है.
32. इन्द्रवज्रा एक सम वर्णित छंद है.
33 आठ सगण के सुंदरी छंद माना.
33.मत्तग्यंद में तेईस वर्ण है होते.
34.चार चरण वाला रोला मात्रिक छंद है होता .
35.बरवें अर्द्ध सम मात्रिक छंद है होते.
36. छ:चरण वाला छंद कुण्डियला को कहते.
37. पंचानन में समास है बहुव्रीहि समास.
38.संख्या वाचकसमास कहलाता है- द्विगु समास .
39. द्वंद समसा का उदाहरण है  पाप -पुण्य.
40.समसा के होते है छ: भेद.
41. मनगढ़ंत में आया समास है कारण तत्पुरुष.
42. सम्बन्ध तत्पुरुष का उदहारण है पवनपुत्र.
43. अपादान से सम्बंधित है  ऋणमुक्त.
44 हथकड़ी में आया है सम्प्रदान तत्पुरुष.
45. चौमासा में आया है द्विगु समास.
46.आटा-दाल में प्रयुक्त समसा है. समाहार.
47. सामासिक शब्द का उदाहरण है –  अनजाने ― जाने बिना.
48. कर्म तत्पुरुष है- ग्रँथकर.
49. हर रोज  , बेकाम  उदाहरण है  उर्दू सामासिक शब्द है.
50 संस्कृत सामासिक शब्द है यथाशक्ति आजन्म.

You May Like

Updated: January 8, 2019 — 20:46

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Jobdetails.co.in © 2016-2018 I About Us I Contact Us I Privacy Policy I Disclaimer I XML Sitemap